fbpx
Breaking News
amrita singh

अमृता सिंह ने कहा करीना कपूर बिगाड़ रही है बच्चो ,करती है ये उनके साथ

बॉलीवुड में सुर्खियां ना मिले, ऐसा हो ही नहीं सकता। बॉलीवुड में कोई ना कोई अभिनेता या अभिनेत्री सुर्खियों में बने ही रहते हैं। ऐसे में अगर देखा जाए तो अमृता सिंह जो हमेशा ही सुर्खियों में दिखाई देती हैं। इसी के साथ करीना कपूर खान भी सुर्खियों में बहुत ही ज्यादा दिखाई देती हैं। जैसा कि आप जानते हैं सैफ अली खान और अमृता सिंह ने 1991 में शादी की थी। इन दोनों के दो बच्चे हैं सारा अली खान और इब्राहिम अली खान। अमृता सिंह जो अपने समय की जानी-मानी अभिनेत्री रह चुकी हैं। अमृता सिंह  ने जब सैफ अली खान से शादी की, तब अपने करियर को छोड़ दिया हालांकि, इन दोनों की शादी ज्यादा समय तक नहीं चल पाई और 2004 में इन दोनों का तलाक हो गया।

अमृता सिंह

अमृता सिंह ने अपने बच्चों की जिम्मेदारी की वजह से दूसरी शादी नहीं की, परंतु सैफ अली खान ने करीना कपूर खान के साथ 2012 में दूसरी शादी कर ली। परंतु इन सभी बातों के बीच में एक खबर चर्चा में बनी हुई है। सारा अली खान की मां मतलब कि, अमृता सिंह यह बिल्कुल नहीं चाहती कि सारा अली खान छोटे कपड़े पहने या कोई क्रॉप टॉप पहने, इन सभी के चलते सारा अली खान को अक्सर चूड़ीदार लंबे कुर्ते में देखा जाने लगा और कई अवॉर्ड शो में भी वह ऐसे ही कपड़े पहनने लगी।

Also Read : सारा अली खान अपनी माँ अमृता सिंह की है फोटोकॉपी तस्वीर देख कर आप कहोंगे हु बू हु

अमृता सिंह

अगर देखा जाए तो अब सारा अली खान अपनी मर्जी के कपड़े पहनने लग गई है। उन्हें जिस तरह के कपड़े पसंद है वह केवल उसी तरह के कपड़े पहनना पसंद करती हैं। लेकिन अमृता सिंह का यह कहना है कि उनकी बेटी सारा अली खान अब अपनी दूसरी मां करीना कपूर से काफी प्रभावित होती हुई दिखाई देती है, और लगभग करीना कपूर का स्टाइल कॉपी करती हुई दिखाई देती है।

अमृता सिंह

लेकिन इन सभी के बीच अमृता सिंह का कहना है, कि वह इंसान मैं ही थी, जिसने अपने बच्चों को अपने पिता की दूसरी शादी के लिए राजी किया था, मतलब कि सैफ अली खान और करीना कपूर की शादी के लिए अमृता सिंह ने अपने बच्चों को राजी किया था।

Also Read : सैफ अली खान नहीं छोड़ना चाहते थे अमृता सिंह को लेकिन इस वजह से छोड़ कर करीना से की शादी

About Durga Pratap Singh Rathore

Leave a Reply

Your email address will not be published.