स्वीट कॉर्न की खेती करके हरियाणा की किसान की चमकी किस्मत, 20 हजार की लागत से हुई 4 लाख की बंपर कमाई

Mohini Kumari
3 Min Read

देश भर में खेती स्मार्ट होने लगी है। किसान भी इससे लाभ उठाते हैं। पलवल, हरियाणा के किसान बिजेंद्र दलाल भी इसी तरह से खेती करते हैं। उन्हें स्वीट कॉर्न की खेती में लगभग 20 हजार रुपये खर्च हुए और 3 से 4 लाख रुपये की कमाई हुई।

इजरायल से सीख कर आ चुके हैं खेती के गुण

किसान बिजेंद्र दलाल प्रगतिशील किसान हैं। उन्हें हरियाणा सरकार और भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान ने भी सम्मानित किया है। विजेंद्र बताते हैं कि काफी समय पहले वैज्ञानिक खेती करने की जगह पारंपरिक खेती करने का विचार आया।

इसके परिणामस्वरूप, 2013 में हरियाणा सरकार ने उन्हें संरक्षित खेती की ट्रेनिंग के लिए इजरायल भेजा। वहां से वापस आने के बाद वे स्वीट कॉर्न की खेती करने लगे।

साल भर में 4 लाख रुपये तक का मुनाफा

विजेंद्र बताते है कि वह एक वर्ष में तीन स्वीट कॉर्न की फसलें उगाते हैं। उन्हें प्रति एकड़ साल भर चार लाख रुपये का मुनाफा मिलता है। 2 साल पहले उन्होंने स्वीट कॉर्न की फसल एक एकड़ में लगाई थी। फिर इस साल उन्होंने दो एकड़ में बागवानी की। एक एकड़ में लगभग ३ किलो बीज लगता है। प्रति किलो ₹ 2400 की लागत है।

साल में तीन बार लेते हैं फसल

बीज के अलावा, खेत तैयार करने के दौरान डीएपी, पोटाश, जिंक, सल्फर और जिप्सम डालने के बाद दीमक से बचाव के लिए दवा दी जानी चाहिए। बिजेंद्र ने कहा कि वह 15 जनवरी से 15 अप्रैल तक पहली फसल लेंगे।

अप्रैल के अंत से जुलाई के अंत तक दूसरी फसल होती है, जबकि तीसरी फसल अगस्त से अक्टूबर के बीच होती है। यह थोक में 25 रुपए प्रति किलो पर उपज बाजार में बिकता है।

गेंदा के फूलों को स्वीट कॉर्न के चारों ओर लगाया गया

विजेंद्र ने स्वीट कॉर्न के आसपास गेंदा का फूल लगाया है। स्वीट कॉर्न की फसल को सफेद मक्खी नहीं मार सकती। गेंदा भी लगभग 12 000 रुपये में बेचा जाता है। स्वीट कॉर्न का चारा भी काफी मीठा है। पशु इसे बड़े चाव से खाते हैं, इससे दूध उत्पादन बढ़ता है। यह भी आसानी से बिकता है।

Share this Article