कभी सोचा है की पानी की टंकी प्लेन क्यों नही होती, बीच बीच में ये लाइन्स बनाने के पीछे की असली वजह

Mohini Kumari
2 Min Read

हम हर दिन कई सामान देखते हैं, जिनके डिजाइन में कुछ खास है, जिसे हम नहीं समझ पाते। हम अक्सर कई डिजाइन लॉजिक को नजरअंदाज कर देते हैं, लेकिन विज्ञान में वे बहुत महत्वपूर्ण हैं। छतों पर पानी की टंकी इसका एक उदाहरण है।

पानी की टंकी को आपने बहुत बार देखा होगा, लेकिन आपने कभी सोचा होगा कि टंकी सीधी क्यों नहीं होती है और इसकी लाइन की वजह क्या है? तो आज हम आपको बताते हैं कि पानी की टंकी में इन लाइनों का निर्माण क्यों होता है।

लाइनें क्यों बनाई गई हैं?

पानी की टंकी में लाइन डिजाइन का एक भाग है। पानी को सुरक्षित रखने में भी इस डिजाइन की मदद मिलती है, क्योंकि यह एक विशिष्ट विचार से बनाया गया है। ये लाइनें पानी के टैंक को हर मौसम में मजबूत और टिकाऊ बनाते हैं।

गर्मियों में फैलने से बचाता है

गर्मी के मौसम में अक्सर प्लास्टिक की टंकी फैल सकती है। लेकिन इस समय ये लाइनें इसे मजबूत करती हैं और इसे फैलने से रोकती हैं। दरअसल, ये लाइनें बनाए गए स्थानों की विशिष्टता उन स्थानों की मजबूतता है। प्लास्टिक का टैंक उस जगह पर मजबूत रहने से फैल नहीं सकता।

प्रेशर को कम करने में मदद

टंकी को देखकर आपको पता चलेगा कि जहां ये रेखाएं हैं, वहां टंकी की मजबूती अधिक दिखेगी। ये पानी के दबाव को झेलने में मदद करते हैं। ये किसी भी क्रिएशन को सपोर्ट करते हैं। इसलिए कंपनियां प्लास्टिक की टंकियां बनाते समय इनका उपयोग करती हैं।

प्लास्टिक इतने दबाव को सहन नहीं कर पाता, इसलिए अगर ये लाइनें प्लास्टिक की टंकियों में नहीं रहेंगी और स्ट्रक्चर पूरी तरह से प्लेन रहेगा तो इसके फूलने का डर रहता है। इन्हें इस विशिष्ट डिजाइन से बल मिलता है, जिससे टंकी लंबे समय तक चलती रहती है।

Share this Article