खबरेखेती

किसान ने ऐसी मशीन बनायीं आगे गोबर डालो पीछे से खाद निकालो

भारत एक कृषि प्रधान देश है और हमारे यहाँ ज्यादा जनसँख्या गावो में रहती है और ज्यादा तर उनकी आजीविका का साधन खेती करना ही ही है ,हमारे देश में पहले एक नारा था जय जवान जय किसान जितना जवान की जरूरत सीमा पर है वैसे ही किसान की जरूरत खेतो में है .आदमी गाडी ,पैसे और ऐशो आराम के बगेर तो रह सकता है लेकिन वो भोजन के बगेर कभी नहीं रह सकता ,कहते है आवश्कता ही अविष्कार की जननी है और एक किसान खेतो में अन्न भी पैदा कर सकता है और जरूरत पड़ने पर अविष्कार भी कर सकता है .

किसान ने बनायीं खाद बनाने वाली अनोखी मशीन

ऐसा ही एक कमाल उत्तर प्रदेश के जिला बिजनोर के रहने वाले एक किसान ने कर के दिखाया है उनके इस अविष्कार की बदोलत अब गोबर खेतो में खाद का काम कर रहा है .गाय की गोबर का ये फायदा है की इसको खेतो में डालने से खेत में दीमक नहीं लगती और भूमि की उपजाऊ शक्ति भी बड जाती है .

वैसे तो गोबर से खाद बनाने के लिए पहले लोगो को काफी इंतज़ार करना पड़ता था ,लेकिन इस मशीन की हेल्प से अब ताजा गोबर से तुरंत खाद बन जाती है जिस से समय की बहुत बचत होती है .और जमीन को ध्यान में रख कर इस मशीन की सहायता से अच्छे जीवाणु भी खेत में मिलाये जा सकते है .इस से जमीन की शक्ति कभी खत्तम नहीं होती और जमीन हमेशा जवान बनी रहती है ,आपको जैसा पता है की किसान खेती की शक्ति बनाये रखने के लिए गोबर खाद का इस्तेमाल करते है लेकिन हर समय गोबर खाद नहीं मिलती .

कच्ची खाद की जगह अच्छी खाद मिलेंगी खेत में

अगर आप किसान हो तो आपको ये तो पता होगा की कच्ची खाद को अच्छी खाद बन्ने में पुरे 3 से 6 महीने लगते है और अगर हम खेत में कच्ची खाद डाल देते है तो फायदे की जगह नुकसान ही होता है .और सबसे बड़ा नुकसान कच्ची खाद को खेत में डालने से ये होता है की खेत में दीमक लग जाता है और दीमक लगने के बाद पूरी फसल ख़राब हो जाती है .

लेकिन जो बिजनोर के किसान से मशीन बनायीं है उस अब ये काम बहुत आसान हो गया है ,अब आप इस मशीन की हेल्प से कच्ची खाद को कुछ ही घंटो में सही खाद में तब्दील कर सकते है .और अब किसानो को खेतो में डालने के लिए तुरंत ही जेविक खाद मिल जाएँगी और इस मशीन से जेविक खेती को बहुत ही जायदा हिम्मत मिलेंगी .

 

Deepak Chauhan

I am Blogger ,writer and instant article expert ,i am writing blog last 7 years.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button