खबरेजरा हट केदेश दुनिया

सऊदी अरब चला UAE की राह पर ,औरतो के नए अवतार को देख चोक लोग

यह तो सब जानते हैं कि सऊदी अरब की महिलाएं काफी रूढ़िवादी विचारधारा से जुड़ी हुई है, लेकिन अब अच्छी खबर यह है कि सऊदी की महिलाएं भी रूढ़िवादी विचारधाराओं को पीछे छोड़ रही है। जी हां हाल ही में हुए सऊदी अरब में ऊंट के मुकाबले के दौरान सऊदी की महिलाओं को भी प्रतियोगिता में हिस्सा लेने की छूट दी है। इस बार सऊदी अरब में हो रही ऊंटों के सौंदर्य प्रतियोगिता में सऊदी अरब की महिलाओं ने पहली बार उठ परेड कि। यह प्रतियोगिता किंग अब्दुल अजीज फेस्टिवल का एक हिस्सा था, जिसमें पहले केवल पुरुष ही पार्टिसिपेट करते थे।

औरतो के नए अवतार को देख चोक लोग

खबरों की माने तो सऊदी अरब की राजधानी रियाद के उत्तर पूर्व में स्थित रूमा रेगिस्तान में इस प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था। जिस का हिस्सा महिलाएं बनकर काफी खुश हैं। 27 साल की लामिया अल रशीद ने इस बात को लेकर कहा कि ‘मैं उम्मीद करती हूं कि इन्शाअल्लाह हमें इस समाज में प्रतिष्ठा अवश्य मिलेगी। जानकारी के मुताबिक लामिया अल रशीद के परिवार में करीबन 40 ऊंट है और वह बचपन से ऊंटों के बीच में ही पली बढ़ी है।

हालांकि इस प्रतियोगिता में पार्टिसिपेट करने के लिए उन्होंने अपने चेहरे को काले रंग के स्काफ से पूरी तरह से ढका हुआ था और कंधे पर रंग बिरंगी शॉल लटकाए हुई थी। उन्होंने AFP समाचार एजेंसी को बताया कि जब ‘मैं छोटी थी तब से ही मेरी खास दिलचस्पी इन ऊंटों में रही हैं और फिर जब यह ऐलान किया गया कि इस प्रतियोगिता में महिलाएं भी पार्टिसिपेट कर सकती है, तो मैंने फैसला किया कि मैं इस प्रतियोगिता में पार्टिसिपेट करूंगी।

इस प्रतियोगिता में लगभग 40 कि भाइयों ने पार्टिसिपेट किया था जिनमें से जीतने वाले पांच महिला प्रतिभागियों को एक मिलियन रियाल यानी कि 19 करोड़ 23 लाख 95 हजार के आसपास की पुरस्कार राशि दी गई आपको बता दें कि इस कंपटीशन में पार्टिसिपेट लेने वाले ऊंटों को कई अलग-अलग मानदंडों पर आंका जाता है लेकिन खासकर ऊंटों की सुंदरता के मामले में गर्दन, होंठ और कूबड का आकार मुख्य रूप से देखा जाता है।

बहुत प्रतियोगियों को इस प्रतियोगिता के लिए दिसम्बर में अयोग्य घोषित कर दिया था क्योंकि उनके ऊंटों को बोटोक्स इंजेक्शन दिया गया था। इस इन्जेक्शन की मदद से ऊंटों की झुर्रियों को कम करने के लिए किया जाता है। एक वक्त ऐसा आया जब इस समारोह में काले वस्त्र पहन कर लाल रेत पर घोड़े में बैठकर परेड करती महिलाएं और सफेद वस्त्र पहनकर पुरुषों ने परेड की शुरुआत की थी।

Nausheen Ejaz

Hello, मेरा नाम Nausheen Ejaz है। मैं एक blogger और writer हूँ। मैं हर तरह के content लिख सकती हूँ। मैं पिछले 2 सालों से blog लिख रही है। और फ़िलहाल मैं यहां entertainment से जुड़ी हर तरह की खबरें और जानकारियां आपको लोगों को provide करने की कोशिश कर रही हूँ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button