home page

शक्तिमान के तमराज किलविश आजकल कहाँ और क्या कर रहे हैं उनका डायलॉग “अँधेरा कायम रहे” आज भी लोगो के दिलो में बसा हैं

90 के दशक में कई ऐसे सीरियल प्रसारित किए जाते थे जिसकी कहानी बच्चो से लेकर बड़ों को खासा पसंद आती थी। टेलीविजन का एक ऐसा शो शक्तिमान हुआ करता था। लोगो को शो में मुकेश खन्ना का शक्तिमान और गंगाधर का किरदार अदल बदल कर निभाना काफी दिलचस्प लगता था। इस शो में मुकेश
 | 
शक्तिमान के तमराज किलविश आजकल कहाँ और क्या कर रहे हैं उनका डायलॉग “अँधेरा कायम रहे” आज भी लोगो के दिलो में बसा हैं

90 के दशक में कई ऐसे सीरियल प्रसारित किए जाते थे जिसकी कहानी बच्चो से लेकर बड़ों को खासा पसंद आती थी। टेलीविजन का एक ऐसा शो शक्तिमान हुआ करता था। लोगो को शो में मुकेश खन्ना का शक्तिमान और गंगाधर का किरदार अदल बदल कर निभाना काफी दिलचस्प लगता था।

इस शो में मुकेश खन्ना ने हीरो का किरदार निभाया था तो वही सुरेंद्र पाल ने किल्विष का किरदार निभाया था। शो में शक्तिमान के जैसे ही विलेन की खासा पॉपुलैरिटी थी। शक्तिमान के अधिकाश एपिसोड में ये अंधेरा कायम है का डायलॉग बोलते सुरेंद्र पाल नजर आए थे।

शो की कहानी में शक्तिमान और किल्विष की भिड़त बाजी अक्सर होती थी। इस दौरान शो काफी दिलचस्प मोड़ पर पहुंच जाता था। इसी शो से सुरेंद्र पाल की लोकप्रियता में इजाफा हुआ था।

उस दौर में किल्विश के नाम से लोग सहम जाते थे। सुरेंद्र ने अभिनय के जरिए लोगों का दिल जीत लिया था।बच्चे से लेकर बड़े तक इस शो के एक भी एपिसोड को मिस करते थे। वही शो की कहानी भी सामाजिक मुद्दों पर आधारित होती थी।

शक्तिमान शो के अंत में शक्तिमान बच्चों को एक सीख देते हुए नजर आते थे। यही वजह है कि इस शो से बच्चों कुछ ना कुछ सीखने को मिल जाता था।वही शो के दौरान शो के खूंखार विलेन का खौफ लोगो के चेहरे पर देखते ही बनता था।

सुरेंद्र ने इस सीरियल में काम करने के अलावा अन्य कई बड़े शो में काम किया है। इन्होंने भोजपुरी इंडस्ट्री में भी हाथ आजमाया था और वहां पर भी इनको काफी लोकप्रियता मिली थी।

पिछले कुछ सालों से अभिनेता मनोरंजन की दुनिया से दूर है, लेकिन कुछ सालों पहले ये अपनी प्रॉपर्टी से संबंधित विवाद के चलते सुर्खियों में छाए हुए थे ।

दरअसल अभिनेता ने अपनी प्रॉपर्टी के हिस्से में से 60 प्रतिशत भाग अपनी बेटी को दिया और बाकी 2 प्रतिशत हिस्सा बेटो को दिया।इसी के चलते काफी विवाद हुआ था। ऐसा माना जाता है,सुरेंद्र अपनी बेटी के काफी करीब है।