जरा हट के

वैलेंटाइन डे के दिन अक्षय कुमार ने कुछ किया ऐसा देखकर गर्व करेंगे आप

कल 14 फरवरी थी इस दिन हमारे देश भारत में कुछ लोग वैलेंटाइन डे मना रहे थे वहीं कुछ लोग पुलवामा में शहीद हुए शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित कर रहे थे। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस दिन पुलवामा में हुए आतंकी हमले में हमारे 40 जवान शहीद हो गए थे। उस साल जैसे जवानों को श्रद्धांजलि देने में सेलिब्रिटीज कि मानो लाइन ही लग गई थी एक से बढ़कर एक सेलिब्रिटी जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित कर रहा था उसे देख लगा था की लोग वेलेंटाइन डे के साथ साथ इस घटना को भी आने वाली समय तक याद रखेंगे।

काफी सालों से यह घर आ चली आ रही है कि हमारे देश भारत के साथ साथ पूरे विश्व भर में 14 फरवरी को वैलेंटाइन डे मनाया जाता है वही इस दिन को प्यार क दिवस माना जाता है। लेकिन अब एक परंपरा और लागू हो गई है एक दीया शहिदो के नाम के लिए भी जलाया जाने लगा है।

अक्षय कुमार ने हमारी आर्मी को याद किया

लेकिन आज के समय में ऐसे बहुत से सैलेबिलिटी हैं जिनको लंबे समय की परंपरा याद है लेकिन 3 साल पहले शहीद हुए जवानों की बिल्कुल भी परवाह नहीं है। बॉलीवुड में छोटे से लेकर बड़े सेलिब्रिटी ने 14 फरवरी को जवानों की बलिदान की कीमत ना समझते हुए एक बार भी याद नहीं किया।

लेकिन अक्षय कुमार उन सभी के मुंह पर तमाचा मारते हुए इस दिन जवानों को भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा ” पुलवामा हमले में शहीद हुए उन सभी वीर जवानों को मेरी भावपूर्ण श्रद्धांजलि जिन्होंने देश की रक्षा करते हुए अपने प्राण गवा दिया भगवान से बस यही आस्था है कि उन्हें अमर रखें और हम सदैव ही इनको याद करते रहेंगे और इनके परिवार को भी मेरा शत-शत प्रणाम।

अक्षय कुमार कुछ न कुछ करते रहते है जवानों के लिए

वही आपको बता दें कि अक्षय कुमार के अलावा कंगना रनौत ने भी जवानों को श्रद्धांजलि दी है लेकिन इनके अलावा बॉलीवुड का ऐसा कोई भी अभिनेता या अभिनेत्री नहीं थी । जिन्होंने इस दिन जवानों को याद किया हो।

आपको क्या लगता है कि बॉलीवुड इंडस्ट्री में सेलिब्रिटीज का ऐसा करना क्या सही है क्या वाकई में 14 फरवरी को वैलेंटाइन डे मनाना चाहिए था। क्योंकि हमारे देश की शान हमारे जवान हैं और इस दिन अगर वह शहीद हो जाते हैं ।तो हमें और कोई नहीं बल्कि उन्हीं को श्रद्धांजलि अर्पित करनी चाहिए।

क्योंकि जवान हमारे लिए इसलिए विशेष है क्योंकि हम उन्हीं की वजह से आज अपने घरों में सुरक्षित महसूस करते हैं । क्योंकि वह अपने घर परिवार को छोड़कर सरहद पर तैनात रहते हैं ।दिन-रात धूप में भी वह अपनी ड्यूटी देते रहते हैं और अगर उनका सामना दुश्मन से हो जाता है तो उन्हें भी वह मुंहतोड़ जवाब देना जानते हैं।

Nausheen Ejaz

Hello, मेरा नाम Nausheen Ejaz है। मैं एक blogger और writer हूँ। मैं हर तरह के content लिख सकती हूँ। मैं पिछले 2 सालों से blog लिख रही है। और फ़िलहाल मैं यहां entertainment से जुड़ी हर तरह की खबरें और जानकारियां आपको लोगों को provide करने की कोशिश कर रही हूँ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button