जरा हट के

यह है भारत की सबसे अमीर महिला

सामान्य तौर पर दुनिया भर में सबसे अमीर व्यक्तियों की बात की जाती है जिनमें पुरुष ही होते हैं। महिलाओं के बारे में ऐसी चर्चा देखने को बहुत कम मिलती है। अधिकतर पुरुष ही दुनिया की सबसे अमीर कैटेगरी में आते हैं। ज्यादातर बिजनेस को जहां पुरुषों ने ही संभाला है वहीं कुछ महिलाएं ऐसी भी हैं जो पुरुषों से कम नहीं है। आज हम एक ऐसी ही महिला की बात कर रहे हैं जिसने अपने दम पर हजारों करोड़ की संपत्ति बनाई है। हम बात कर रहे हैं देश की सबसे अमीर महिला किरण मजूमदार शॉ की, जॉब बाइकॉन लिमिटेड की चेयर पर्सन है। हाल ही में जारी हुई हुरून ग्लोबल रिच लिस्ट (hurun global rich list) में किरण मजूमदार को भारत की सबसे अमीर महिला अरबपति माना गया है।

बायोकॉन लिमिटेड की फाउंडर किरण मजूमदार की कुल संपत्ति 4.8 बिलीयन डॉलर है जो भारतीय मुद्रा में करीब 35301 करोड रुपए होती है। आज काफी लोग यह देख रहे हैं कि एक महिला ने अकेले इतने अरबों की प्रॉपर्टी बना ली लेकिन यह प्रॉपर्टी इतनी आसानी से नहीं बनी इसके पीछे किरण मजूमदार की बहुत बड़ी मेहनत और कड़ा संघर्ष है जिसकी बदौलत आज वह इस मुकाम तक पहुंची हैं।

किरण मजूमदार शा के कारण मिल रही सस्ती दवाएं

आज के समय बहुत सारे दवाई ऐसी हैं जो सस्ती मिलती है इसके पीछे शुक्रिया करने का जो हकदार है वह किरण मजूमदार हैं। किरण मजूमदार बायोकॉन लिमिटेड की चेयर पर्सन है और इन्होंने लोगों को सस्ती दवाएं मुहैया कराकर दुनिया में सबसे बेहतरीन काम किया है। भारत में काफी लोग ऐसे हैं जो इलाज की कमी, पैसे की कमी तथा महंगी दवाई होने के कारण अपना इलाज नहीं करवा पाते और उनकी मौ’त हो जाती है। खास तौर पर डायबिटीज के मरीजों की जिंदगी पहले से काफी आसान हो गई है और यह सिर्फ किरण मजूमदार के कारण ही संभव हो पाया। बायोकॉन लिमिटेड की दवाई आने से पहले मल्टीनेशनल कंपनियों की दवाई काफी महंगी हुआ करती थी। कंपनियां कम दवाई बनाकर उसे महंगी रेट पर बेचा करते थे जिससे मुनाफा भी अधिक होता था लेकिन किरण मजूमदार ने इस पूरे मॉडल को पलट कर रख दिया।

उदाहरण के तौर पर आपको बताइए तो डायबिटीज की दवाई पहले ₹300 में मिला करती थी जिसकी कीमत किरण मजूमदार ने ₹10 कर दी इसकी वजह से जहां लोगों को पहले इतने अधिक पैसे देने पड़ते थे वही आज कुछ रुपए में ही डायबिटीज का दवाई मिल सकती है। मजूमदार का यह कदम भारत के आम नागरिक के लिए एक बहुत बड़ा साबित हुआ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button