हरियाणा के पलवल, फरीदाबाद और गुड़गांव के लोगो की होने वाली है मौज, मंडकोला के एक्सप्रेसवे लिंक रोड बनाने के प्रोजेक्ट को मिली मंजूरी

Mohini Kumari
2 Min Read

पलवल, फरीदाबाद, गुरुग्राम और नूंह के निवासियों को राहत मिली है। सरकार ने दिल्ली-वडोदरा मुंबई-एक्सप्रेसवे को क्षेत्र से जोड़ने का प्रस्ताव स्वीकार किया है।

बजट अस्टिमेट और ड्राइंग को मंजूरी मिली है। केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के हस्तक्षेप के बाद सरकार ने लोगों की मांग को मान लिया।

हरियाणा राज्य औद्योगिक विकास निगम पंचकूला के असिस्टेंट मैनेजर ने पत्र लिखकर मानेसर के असिस्टेंट जनरल मैनेजर को स्वीकृति पत्र भेजा है। अब मंडकौला सिलानी रोड को कुंडली मानेसर एक्सप्रेसवे से जोड़ा जाएगा।

मंडकौला सिलानी रोड से KMP तक पहुंचने के लिए रैंप बनाए जाएंगे। इस पुल के बनने पर डीएनडी, केएमपी और वडोदरा राजमार्ग एक-दूसरे से जुड़ जाएंगे। इसका नाम जंक्शन रोड होगा।

इस परियोजना पर सरकार 7.94 करोड़ रुपये खर्च करेगी। इस परियोजना से चारों जिलों के लोग सीधे लाभ उठाएंगे। रैंप रोड के अलावा टोल प्लाजा भी बनाया जाएगा।

भाजपा के स्थानीय विधायक प्रवीण डागर ने कहा कि टेंडर और अन्य प्रक्रियाएं जल्द ही शुरू हो जाएंगी। रोड और अन्य सुविधाओं के निर्माण के लिए औद्योगिक विकास निगम के पास पहले से ही निगम के पास रिजर्व जमीन का उपयोग किया जाएगा।

4 ज़िले के लोगों को होगा फायदा

84 गांवों की महापंचायत ने संबंधित लिंक रोड बनाने की मांग को लेकर धरना और भूख हड़ताल की थी। आंदोलन चालीस दिन चला।

केंद्रीय राष्ट्रीय राजमार्ग परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से मिलने के लिए स्थानीय सांसद और केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर, स्थानीय विधायक प्रवीण डागर और महापंचायत से जुड़े पंच मुकेश डागर भी दिल्ली गए।

हरियाणा के मुख्यमंत्री को गडकरी ने आवश्यक दिशानिर्देश दिए। पूर्व मंत्री हर्षकुमार ने डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला को दिल्ली-वडोदरा-मुंबई एक्सप्रेसवे को केएमपी एक्सप्रेसवे और मंडकौला सिलौनी रोड से जोड़ने की अनुमति देने पर धन्यवाद व्यक्त किया है। पलवल और नूहं जिलों का विकास होगा, पूर्व मंत्री हर्षकुमार ने कहा।

Share this Article