home page

चाहे बिज़नेस हो या फिर कोई फ़ैमिली फक्शन, इस मंदिर से है अंबानी परिवार का ख़ास लगाव

मुकेश अंबानी भारत के एक जाने-माने बिजनेसमैन हैं और उनका हर एक्शन सुर्खियों में रहता है। आज हम आपको उनके बारे में एक और बात बताने जा रहे हैं। बहुत से लोग यह नहीं जानते होंगे, लेकिन अंबानी परिवार अपने हर खुशी के मौके की शुरुआत नाथद्वारा, राजसमंद जिले, उदयपुर सांभा, राजस्थान में श्रीनाथजी मंदिर से करता है। मुकेश अंबानी के बेटे अनंत अंबानी और उद्योगपति वीरेन मर्चेंट की बेटी राधिका मर्चेंट ने गुरुवार को सगाई कर ली।
 | 
अंबानी परिवार इस मंदिर से करता है अपने हर शुभ कार्य की शुरुआत

मुकेश अंबानी भारत के एक जाने-माने बिजनेसमैन हैं और उनका हर एक्शन सुर्खियों में रहता है। आज हम आपको उनके बारे में एक और बात बताने जा रहे हैं। बहुत से लोग यह नहीं जानते होंगे, लेकिन अंबानी परिवार अपने हर खुशी के मौके की शुरुआत नाथद्वारा, राजसमंद जिले, उदयपुर सांभा, राजस्थान में श्रीनाथजी मंदिर से करता है। मुकेश अंबानी के बेटे अनंत अंबानी और उद्योगपति वीरेन मर्चेंट की बेटी राधिका मर्चेंट ने गुरुवार को सगाई कर ली।

यहीं से हुई थी रिलायंस की 4जी-5जी सेवा की शुरुआत

इस मंदिर को समर्पित कर मुकेश अंबानी ने 4जी-5जी सेवा की शुरुआत की थी। वह और अंबानी परिवार हमेशा किसी भी शुभ कार्य की शुरुआत श्रीनाथजी के मंदिर से करते हैं।

उदयपुर संभाग के राजसमन्द जिले में है मंदिर

435

यह मंदिर राजस्थान के उदयपुर संभाग के राजसमंद जिले के श्रीनाथ नगरी नाथद्वारा में स्थित है। अंबानी परिवार इस मंदिर का बहुत बड़ा भक्त है और यह करीब 350 साल पुराना है। मंदिर उदयपुर से लगभग 35 किमी दूर है। इस मंदिर में भगवान कृष्ण के बाल रूप को दर्शाया गया है। इस मंदिर में आने वाले ज्यादातर श्रद्धालु गुजरात से होते हैं, लेकिन यह शहर हाल ही में दुनिया की सबसे बड़ी शिव प्रतिमा के उद्घाटन के समय भी सुर्खियों में आया था। दिवाली के बाद अन्नकूट का सबसे बड़ा आयोजन भी यहीं होता है और हजारों की संख्या में लोग इसे देखने आते हैं।

ईशा अंबानी की शादी में मंदिर की थीम पर डेकोरेशन

अंबानी परिवार श्रीनाथजी के प्रति बहुत समर्पित है और परिवार का कोई न कोई सदस्य प्रतिदिन मंदिर में दर्शन करने आता है। वे आमतौर पर नाथद्वारा में रहते हैं, लेकिन ईशा अंबानी की शादी उदयपुर में हुई थी। उनकी शादी की सजावट सभी श्रीनाथजी से प्रेरित थी। शादी से पहले पूरा परिवार मंदिर में पूजा-अर्चना करने गया। फिर शादी की रस्में हुईं।

Disclaimer :इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टिviraldailykhabar.comद्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है और इसे मनोरंजन के लिए तैयार किया गया है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन या इंटरनेट पर रीसर्च ज़रूर कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें।viraldailykhabar.comपोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।