सरकारी दूल्हे से दुल्हन ने 48 घंटे में ही तोड़ लिया रिश्ता, सच्चाई आई सामने तो दहेज का सामान ले लिया वापस

Mohini Kumari
2 Min Read

फिरोजाबाद के सिरसागंज में एक सरकारी नलकूप ऑपरेटर ने दहेज के लालच में एक युवती से शादी कर ली। उसकी प्रेमिका को विदाई के समय का पता चला तो वह कर्मचारी की ससुराल जा पहुंची और बहुत हंगामा की। उसने पुलिस को भी फोन किया।

सात फेरे लेने वाली दुल्हन को पता चला कि उसका दूल्हा और प्रेमी चार साल से एक दूसरे के साथ रह रहे हैं, तो उसने पति के साथ रहने से इनकार कर दिया। दो दिन की बैठक के बाद, दोनों पक्षों ने शादी को तोड़ने पर सहमति बनाई।

सिरसागंज थाना क्षेत्र के एक गांव की एक युवती की शादी 26 नवंबर को शहर के एक मैरिज होम में एक सरकारी नलकूप ऑपरेटर के साथ हुई। फिरोजाबाद रात का स्थान था। 27 नवंबर को भी विदा हुई। दुल्हन घर आते ही दूसरी विदा करने लगी।

दूल्हा भी दो रिश्तेदारों के साथ उसे बुलाने आया था, और सब कुछ खुशहाल था। उस समय एक युवा वहां पहुंच गया। दूल्हा उसे देखकर सकपका गया। युवती ने बताया कि वह उत्तर थाना क्षेत्र के फिरोजाबाद से है।

दूल्हे से वह चार साल से प्रेम करता है। वह उसे विवाह करने का झांसा देता रहा और अंततः यहीं विवाह कर लिया। युवती एक अस्पताल में नर्स है।

उसने कहा कि वह अपने पहले पति को प्रेमी के कारण तलाक दे चुकी है। दुल्हन ने इतना सुनते ही दूल्हे के साथ जाने से इनकार कर दिया। बाद में दोनों पक्षों के लोग एकत्र हुए और मामला थाने पहुंचा।

दो दिन की बैठक के बाद, दोनों पक्षों ने शादी को तोड़ने पर सहमति बनाई। वर पक्ष ने कार, दान दहेज और पांच लाख रुपये वापस कर दिए। दोनों पक्षों ने शिकायती पत्र नहीं भेजा, इंस्पेक्टर उदयवीर मलिक ने बताया।

Share this Article