शादी से 48 घंटे पहले दूल्हे को करवाना पड़ा हॉस्पिटल में एडमिट, तो दुल्हन ने किया ऐसा काम की दूल्हे को भी नही हुआ आंखो पर यकीन

Mohini Kumari
2 Min Read

गाजियाबाद में एक फिल्म की कहानी की तरह एक शादी हुई। गाजियाबाद, उत्तर प्रदेश, फिल्मों की तरह था। आपने पिछले साल की फिल्म ‘विवाह’ देखी होगी, जिसमें एक युगल प्रेमी का विवाह कठिन परिस्थितियों में होता है।

गाजियाबाद में भी 27 वर्षीय अविनाश और अनुराधा की शादी वैशाली के मैक्स अस्पताल में परिवार की मौजूदगी में हुई। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अविनाश पूर्वी दिल्ली में रहता है और अनुराधा फरीदाबाद में रहती है।

दूल्हे को शादी से पहले डेंगू

वास्तव में, अविनाश की शादी 27 नवंबर को हुई थी, लेकिन उसके परिवार को 25 नवंबर को पता चला कि उसे डेंगू हो गया था, जिसके बाद उसे मैक्स हॉस्पिटल में भर्ती कर दिया गया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, अविनाश का प्लेटलेट काउंट १००० तक पहुंच गया था। यह एक बहुत लेट काउंट है, जिसमें जान का भी खतरा है। अविनाश के परिजन बीमार होने के कारण शादी की तिथि को टालना चाहते थे।

अनुराधा के परिजनों ने अविनाश को अस्पताल में देखने के लिए एक प्रस्ताव रखा। उनका कहना था कि बहुत कम लोगों के बीच एक छोटे से मुहूर्त में शादी अस्पताल में होती है।

शेरवानी और लहंगे में तैयार हुए दूल्हा-दुल्हन

इसके बाद अस्पताल प्रशासन से बातचीत की गई और शादी समारोह के लिए अस्पताल में ही एक कमरे को सजाया गया. दस परिजनों की उपस्थिति में दोनों का विवाह वहीं संपन्न हुआ।

तस्वीर में दूल्हा-दुल्हन शेरवानी और लहंगे में अपनी शादी की रस्में पूरी करते हुए दिखाई देते हैं। पूरी शादी के दौरान उन्हें आशीर्वाद देते रहें।

अविनाश और अनुराधा की शादी पारिवारिक रूप से हुई। अनुराधा नर्स हैं, लेकिन कभी नहीं सोचा था कि उनकी शादी अस्पताल में होगी। प्राप्त जानकारी के अनुसार, दूल्हे की स्थिति अच्छी है और उसे अस्पताल से छुट्टी मिल चुकी है।

Share this Article