Today Weather Forecast: कड़ाके की ठंड के लिए हो जाए तैयार, इस तारीख से शुरू होगा बारिश का दौर

Mohini Kumari
3 Min Read

दिल्ली में सर्दी कम हो रही है। घरों में कंबल निकल आए हैं। ठंड के दिन, स्वेटर और जैकेट पहने हुए हैं। शहरों में पहाड़ों पर बर्फबारी का प्रभाव देखने लगा है। मौसम विभाग (IMD) ने बताया कि गुरुवार की सुबह दिल्ली इस सीजन में सबसे ठंडी थी।

क्योंकि दिल्ली में पहली बार पारा दस डिग्री से कम हुआ। जो औसत से दो डिग्री कम था। गुरुवार को सबसे अधिक 26.7 डिग्री सेल्सियस और सबसे कम 9.2 डिग्री सेल्सियस था। बुधवार को सबसे कम तापमान 10.6 डिग्री था, जो सामान्य से एक डिग्री अधिक था। आज भी यही ट्रेंड रहेगा।

बारिश से बढ़ेगी ठंड

24 नवंबर से कोहरा देखा गया, इसलिए मौसम विभाग का अनुमान सही निकला। कोहरे की शुरुआत से सुबह-सवेरे देखने में कमी आने की खबरें आ रही हैं। आज भी तापमान 26 डिग्री से अधिक हो सकता है और 10 से भी कम हो सकता है।

दिल्ली में 27 नवंबर से अगले कुछ दिनों में बारिश होने की उम्मीद है। ऐसे में बारिश होने पर तापमान में और कमी होगी। बारिश से ठंड बढ़ेगी, लेकिन वायु प्रदूषण कम होगा। स्वेटर और मफलर वाली ठंड अभी आने में कुछ समय लगेगा।

दिसंबर के पहले हफ्ते में ये स्थिति होने का अनुमान है। यूपी में आज भी सुबह कोहरा या धुंध रहेगा और बाद में आसमान प्रायः साफ रहेगा। तापमान 14 डिग्री से 28 डिग्री सेल्सियस तक होगा।

दिल्ली में बढ़ा प्रदूषण

दिल्ली का प्रदूषण लगातार बढ़ता जा रहा है। दिल्ली प्रदूषित हो गई है। आज सुबह कई स्थानों पर विसिबिलिटी 50 मीटर से कम थी। दिल्ली-NCR में AQI लगातार पांचवें दिन बढ़ रहा है। Safar App के डाटा के अनुसार, दिल्ली का आज सर्वश्रेष्ठ AQI 388 था।

नोएडा में भी हालात खराब हैं, जहां AQI 363 बहुत बुरा है। गुरुग्राम में आज सुबह 6 बजे AQI का आंकड़ा 321 रहा। CPCB के आंकड़े बताते हैं कि दिल्ली के कई क्षेत्रों में AQI 400 से अधिक है।

बारिश के आसार

आंध्र प्रदेश के उत्तरी तटीय क्षेत्रों में मंगलवार से अगले दो दिन तक गरज से साथ बारिश हो सकती है, खासकर दक्षिणी तट और रायलसीमा। 24 नवंबर से 27 नवंबर तक तटीय कोंकण क्षेत्र, गोवा समेत महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों में नमी वाली पछुआ हवाओं के कारण हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। IAMD के मौसम पूर्वानुमान प्रभाग के प्रमुख अनुपम कश्यपी ने बताया कि कोंकण, गोवा, मध्य महाराष्ट्र और पश्चिमी महाराष्ट्र में तेज पछुआ हवाओं के चलते बारिश होने की संभावना है। 24 नवंबर से 27 नवंबर तक इन क्षेत्रों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

Share this Article