खबरेदेश दुनिया

9 साल और 14 साल के ये 2 बच्चे कमाते है लाखो रुपये ,जानिए क्या है इनका काम

हम जब छोटे होते है तो सिर्फ खेल कूदने और मस्ती करने के बारे में ही सोचते है लेकिन दोस्तों अमेरिका में रहने वाले दो बच्चो ने इस मिथक को तोड़ दिया है .आज कल क्रिप्टो करेंसी बहुत ही ज्यादा चलन में है और इसकी माइनिंग करना इस से भी ज्यादा मुश्किल काम है लेकिन इन दो बच्चो ने ये भ्रम तोड़ कर एक नया ही इतिहास रच दिया है .14 साल के लड़के ईशान और 9 साल के अनन्या ठाकुर ने इस उम्र में लाखो रूपए कमा कर मिसाल पैदा कर दी है .

कैसे कमाते है ये दो बच्चे लाखो रुपये

आज हम जिन दो बच्चो की बात कर रहे है वो अमेरिका में रहते है ,14 साल का ईशान 9 वि क्लास में पड़ता है और आगे मेडिसिन की पड़ाई करना चाहता है वही दूसरी तरफ उसकी बहिन भी 4 क्लास में पडती है और वो भी आगे जा कर मेडिकल में पड़ाई करना चाहती है .इस उम्र में बच्चे अक्सर खेल खुद पर ध्यान लगाते है लेकिन ये दोनों भाई बहिन क्रिप्टो करेंसी की माइनिंग करके पैसे कमाते है .

अब आप ये सोचेंगे की उनको ये जानकारी कहा से मिली तो दोस्तों ये सब कुछ उन्होंने यू ट्यूब से सिखा है उन्होंने अपने कंप्यूटर के ग्राफ़िक कार्ड को माइनिंग रिंग में बदल दिया ताकि जो क्रिप्टो करेंसी की भरी भरकम वेबसाइट है उनको आसानी से चला सके .

कितना कमा रहे है दोनों बच्चे

शुरू शुरू में जब दोनों बहिन भाई ने ये काम शुरू किया तो कुछ ख़ास सफलता नहीं मिली उन्होंने पहले महीने सिर्फ 125 रुपये कमाए यानी की 3 डॉलर के करीब .लेकिन दोनों ने हिम्मत नहीं हारी और उनके अगले महीने ही दोनों ने 1000 डॉलर तक कमा लिए उसके बाद उन्होंने इस बिज़नस को आगे ले जाने के लिए अपनी कंपनी ही खोल ली .

एक आकड़ो के अनुसार उन दोनों के पास 90 से ज्यादा प्रोसेसर है जो की उन्होंने हर सेकंड 10 मिलियन से ज्यादा अल्गोरिथम बनाने में सहायता करते है .एक अनुमान के अनुसार वो एक महीने में क्रिप्टो करेंसी से 27 लाख रुपये महीने से ज्यादा की कमाई कर लेते है जो अपने आप में बहुत बड़ी बात है .जब उनसे ये पूछा गया की वो इतने पैसो का क्या करोंगे तो उन्होंने कहा की वो अपनी कमाई से अपनी पड़ाई का खर्चा खुद ही उठाएंगे .

Deepak Chauhan

I am Blogger ,writer and instant article expert ,i am writing blog last 7 years.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button